Breaking news

message alert : मोबाइल पर आएगा आपातकालीन अलर्ट, कारण जानिए ??

message alert
Share with Friends

message alert: मोबाइल या स्मार्टफोन पर सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट का परीक्षण – झारखंड में आपातकालीन संदेश,सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट का परीक्षण ये सप्ता को

आपातकालीन अलर्ट का परीक्षण झारखंड में

message alert: डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन के साथ मिलकर बढ़ाएगा सुरक्षा और जागरूकता

डीओटी द्वारा आपातकालीन चेतावनी प्रक्रिया का हिस्सा बताया गया

झारखंड में सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट का परीक्षण

message alert: विक्रम गिरि, रांची: झारखंड के नागरिकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है, क्योंकि ये सप्ता यहाँ पर एक महत्वपूर्ण परीक्षण होने वाला है। इस परीक्षण के दौरान, सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट सिस्टम का परीक्षण किया जाएगा, जिसका उद्देश्य आपदाओं के दौरान आपातकालीन संचार को बढ़ाना और नागरिकों की सुरक्षा और भलाई सुनिश्चित करना है।

सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट सिस्टम: आपातकालीन जानकारी का माध्यम

message alert: सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट सिस्टम एक अत्याधुनिक तकनीक है, जो एक भौगोलिक क्षेत्र के भीतर सभी मोबाइल उपकरणों पर आपदा प्रबंधन के लिए महत्वपूर्ण और समय-संवेदनशील संदेश भेजने की अनुमति देता है। यह उद्देश्य महत्वपूर्ण आपातकालीन जानकारी को समय पर अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने में किया जाता है। आपातकालीन अलर्ट सिस्टम का उपयोग आमतौर पर आपातकालीन चेतावनी देने के लिए किया जाता है, जैसे कि गंभीर मौसम की चेतावनी, सुनामी, फ्लैश फ्लड, भूकंप, सार्वजनिक सुरक्षा संदेश, निकासी नोटिस और आदि महत्वपूर्ण जानकारी।

इस परीक्षण के दौरान, एक बनावटी आपातकालीन अलर्ट का परीक्षण किया जाएगा, जो नियोजित परीक्षण प्रक्रिया का हिस्सा होगा। डीओटी (डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन) ने यह स्पष्ट किया है कि यह एक परीक्षण संदेश है, जिसका उद्देश्य सिर्फ परीक्षण प्रक्रिया का हिस्सा है, और वास्तविक आपात स्थिति का संकेत नहीं होगा।

डीओटी और आपातकालीन संदेश का महत्व

message alert: डीओटी रांची के कंप्लायंस-1 निदेशक, एसएस बारा, ने बताया कि दूरसंचार विभाग, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ मिलकर सेल ब्रॉडकास्ट अलर्ट सिस्टम का परीक्षण करने जा रहा है, जो आपदाओं के दौरान आपातकालीन संचार को बढ़ाने और नागरिकों की सुरक्षा और भलाई सुनिश्चित करेगा। यह परीक्षण इसकी क्षमताओं का और प्रभावशीलता का मूल्यांकन करेगा, साथ ही विभिन्न मोबाइल ऑपरेटरों और सेल ब्रॉडकास्ट की आपातकालीन चेतावनी प्रसारण क्षमताओं की दक्षता को भी मूल्यांकन करेगा।

यह परीक्षण नागरिकों की सुरक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है और आपदाओं के दौरान समय-संवेदनशील संदेशों की त्वरित पहुंच की गारंटी देता है।

ये भी पढ़ें: Koderma Hospital: कोडरमा मेले में जहरीले खाने से 70 से अधिक लोग गंभीर

YOUTUBE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *